Mera Sexy Parivar – Part 4

Click to this video!
Dilwala Rahul 2016-08-23 Comments

This story is part of a series:

माहौल को भांपते हुए वो सपना और झिलमिल पर टूट पड़ती है, दरअसल पंखु खेलकूद में काफी होशियार थी तो अपनी फुर्ती व चालाकी के दम पर वह, चाची-झिलमिल पर भारी पड़ गयी.और अब दबदबा सुजाता और पंखु का था..

लड़ाई इतनी बढ़ गयी कि पंखु और सुजाता डंडे से लगातार सपना और झिलमिल पर वार किए जा रहे थे, और चाची-झिलमिल की हालत बेहोशी वाली हो गयी थी, अब चाची और झिलमिल माफ़ी मांगने पर मजबूर हो गए थे।

चाची (रोते हुए) – माफ़ कर दे दीदी, माफ़ करदे, रहम कर मेरी बच्ची और मुझ पर।

ताई – रंडियों, अब माफ़ी मांगते हो, बोलो करोगे अब बदतमीजी ?

झिलमिल – ना ताई, अब नहीं करेंगे, छोड़ दो हमे।

चाची – भगवान् के लिए छोड़ दो, राहुल बेटा बचा हमे।

मैं – माफ़ी मांग लो, मैं कुछ नहीं कर सकता, चाची आपको ताई का आदर करना चाहिए, वो आपकी माँ की तरह है।

चाची – आज से आदर करूँगी, जो बोलेगी वो करूँगी, गुलाम बन कर रहूंगी।

ताई – अब सजा तो मिलेगी तुम दोनों माँ बेटियों को.. पंखु इधर आ, अपना पैजामा खोल और इनके मुह और बदन पर मूत दे, मैं भी मुतती हूँ।

झिलमिल – ऐसा मत करो ताई प्लीज, मत कर पंखू दीदी ऐसा।

पंखु – चुप कर रंडी साली.. कपड़े खोल अपने जल्दी नंगी हो जा।

झिलमिल – नहीं दीदी नंगी मत कर प्लीज।

(पंखु और सुजाता झिलमिल को जबरन नंगी कर देते है उसके बाद चाची और झिलमिल के ऊपर मूत्र विषर्जन करते हैं, इतना अपवित्र दृश्य देखकर मेरी आँखें भर आयी, चाची-झिलमिल के प्रति मेरा हृदय पिघल गया, मुझे अब ताई और पंखू की इस अमानवीय हरकत पर गुस्सा आने लगा, लेकिन मेने अभी कुछ करना ठीक नहीं समझा..

फिर ताई और पंखू ने झिलमिल से चाची की चूत चटवायी और चाची से भी झिलमिल की गांड व चूत रस चटवाया.. इतना करने के बाद ताई और पंखू अपने कमरे में चले गए और चाची-झिलमिल जमीन में लेटे रो रहे थे)

मैं – चल चाची अब नहा ले और कपड़े पहन ले, झिलमिल बहन तू भी नहा ले।

चाची – तूने मुझे बचाया नहीं राहुल, तू बहुत गंदा है।

झिलमिल – हाँ भाई, हमारा साथ नहीं दिया तूने।

कहानी पढ़ने के बाद अपने विचार निचे कोममेंट सेक्शन में जरुर लिखे.. ताकि देसी कहानी पर कहानियों का ये दोर आपके लिए यूँ ही चलता रहे।

मैं – तो कौन सा मैंने ताई या पंखु का साथ दिया, सुन अभी आराम कर, कल कुछ सोचते हैं ताई को सबक सिखाने के बारे मे।

(और अंतः रात में सब सो जाते हैं, अगले दिन क्या हुआ वो मैं आपको अगले भाग में बताऊंगा, अगले भाग के लिए कुछ दिन प्रतीक्षा करें, शुक्रिया)

दोस्तों कहानी अभी जारी है, कृपया कमेन्ट करें और अपनी प्रतिक्रिया दें.. और मेरी मेल आई डी है “”.

सुचना – **इस कहानी के सभी पात्र और घटनाऐं काल्पनिक है, इसका किसी भी व्यक्ति या घटना से कोई संबंध नहीं है। यदि किसी व्यक्ति या घटना से इसकी समानता होती है, तो उसे मात्र एक संयोग कहा जाएगा**

Sex Stories

What did you think of this story??

Comments

Scroll To Top