Teen Lode Mujhe Mami Samjh Ka Chod Gaye

Click to this video!
Arashdeep Kaur 2017-07-12 Comments

मैंने अपनी जीभ से उसके टोप्पे को चाटते हुए उसका लंड मुंह में ले लिया। दूसरे ने अपने घुटने मोड़कर टेबल पर रखे और अपना लंड मेरे बूब्ज़ के बीच दबाकर हिलाने लगा। तीसरा मेरी टांगें खोलकर नीचे बैठ गया और मेरी जांघों को चूमते हुए मेरी चूत पर होंठ लगा दिए। मैं अपना सिर आगे-पीछे करके लंड चूसने लगी और गांड हिला हिला कर चूत चटवाने लगी। कुछ देर बाद सब वहशी हो गए। पहले वाले ने मुझे गालों से पकडा़ और जोर जोर से अपना लंड मेरे मुंह के अंदर-बाहर करने लगा। जब वो झटका मारता तो लंड मेरे मुंह से होता हुआ मेरे गले की गहराई में उतर जाता और वो फिर बाहर खींच लेता।

दूसरा मेरे बूब्ज़ को जोर से दबाए हुए लंड हिलाने लगा और लंड आराम से आगे-पीछे पीछे करने केलिए बार बार मेरे बूब्ज़ के बीचोंबीच थूकता। तीसरा मेरी चूत में जीभ डालकर जोर जोर से चाटने लगा। मैं गांड उठा उठाकर अपनी चूत उसके चेहरे पर रगड़ने लगी। पूरे रूम में फचाक फचाक और सपड़ सपड़ की आवाज़ें गूंजने लगी। सब ने बारी बारी से मेरे मुंह में लंड दिया, बूब्ज़ को चोदा और मेरी चूत को चाटा। मैंने बहुत वहशीपन से उनके लंड चूसे और उनके चेहरे पर चूत मसल मसल कर चूत चटवाई।

उन्होंने मेरी गांड के छेद के ऊपर और अंदर ऊंगली डालकर गांड के अंदर-बाहर अच्छी तरह तेल लगा दिया। एक सोफे पर बैठ गया और मैं अपने घुटने मोड़कर सोफे पर रखकर अपनी गीली चूत उसके लंड पर टिका दी। मैंने उसके कंधों को जोरदार से पकड़कर अपनी गांड तेज़ी से नीचे को धकेल दी। उसका लंड मेरी चूत की दीवारों को खोलता हुआ अंदर तक बैठ गया और मेरी बच्चेदानी के मुंह से टकरा गया।

जैसे ही उसका लंड मेरी बच्चेदानी से टकराया तो मेरे मुंह से मस्ती भरी चीख निकल गई। मैं उसके लंड पर उछलने लगी और मेरे बूब्ज़ ऊपर-नीचे उछलने लगे। तभी दूसरा सोफे के पीछे आ गया और मेरे होंठों को लंड लगा दिया। मैंने मुंह खोलकर लंड मुंह में ले लिया और एक के लंड पर उछलते हुए दूसरे का लंड सिर को आगे-पीछे करके चूसने लगी। यह कहानी आप देसी कहानी डॉट नेट पर पढ़ रहे है।

तभी तीसरे ने मेरी कमर में हाथ डालकर मेरी गांड ऊपर उठा ली और मेरी गांड के छेद पर लंड रखकर जोरदार शॉट मारा। उसका लंड मेरी गांड को खोलता हुआ जड़ तक अंदर घुस गया। अब मेरे तीनों छेदों में दमदार लंड अंदर-बाहर हो रहे थे और मुझे बहुत ज्यादा मस्ती चढ़ रही थी। सोफे के पीछे वाले ने मुझे सिर पकड़कर मेरे मुंह के चोदना चालू कर दिया और बाकी दो मेरी चूत एवं गांड चोदने लगे।

अचानक जो मेरी गांड चोद रहा था बहुत तेज़ी से मेरी गांड चोदने लगा। वो मेरी गांड की कसावट को ज्यादा देर न झेल सका और ठंडी आंहें भरता हुआ मेरी गांड में झड़ गया। मुझे अपनी गांड में गर्म गर्म वीर्य गिरता महसूस हुआ और उसने लंड बाहर निकाल लिया। इतनी जल्दी झड़ जाने से मुझे गुस्सा आ गया और मैंने कहा साले बहनचोद गांडू पहले तो बडा़ उछल रहा था अब इतनी जल्दी गांड फट गई।

अगर लड़की चोदने की ताकत नहीं तो घर में बैठ कर हाथ से मुट्ठ मार लिया कर। बडा़ आया लड़की चोदने वाला चल भाग किसी से गांड मरवा। वो शर्म का मारा रूम से निकल गया और अब मैदान में चोदने वाले दो खिलाड़ी रह गए। अब जो मेरा मुंह चोद रहा था उसने कपडे़ से मेरी गांड साफ की और मेरी गांड में लंड पेल दिया। एक नीचे से कमर हिला कर मेरी चूत चोदने लगा और दूसरा पीछे से मेरी गांड में लंड अंदर-बाहर करने लगा। उसके बाद उन्होंने जगह बदल अर मेरी चूत एवं गांड चोदी और मैं मस्ती में चीखते हुए उछल उछल कर गांड और चूत में लंड लेने लगी।

हम तीनों खडे़ हो गए और एक मेरी टांग उठाकर सामने आ गया। सामने वाले ने मेरी चूत के छेद पर लंड लगा कर जोर से शॉट मारा और लंड मेरी चूत में समा गया। पीछे से दूसरे ने मेरी चूतडो़ं की फांकों को खोला और मेरी गांड में लंड पेल दिया। आगे वाला मेरे होंठों को चूमते हुए कमर हिला हिला कर मेरी चूत चोदने लगा। पीछे वाला मेरे बूब्ज़ दबाते हुए मेरी गर्दन चूमते हुए गांड चोदने लगा। मैंने सामने वाले को कस कर पकड़ लिया और अपनी टांगें उसकी कमर पर लपेट दीं।

मैंने दोनों को रुकने केलिए कहा औल अपनी गांड आगे-पीछे चलाने लगी। जब गांड को आगे करती तो सामने वाले का लंड मेरी चूत की गहराई में उतर जाता और पीछे वाले का लंड गांड से थोडा़ बाहर हो जाता। जब गांड पीछे करती तो पीछे वाले का लंड मेरी गांड की गहराई में उतर जाता और सामने वाले का लंड चूत से थोडा़ बाहर आ जाता। मैं गांड को बहुत तेज़ी से आगे-पीछे करने लगी। लंड के मेरी चूत एवं गांड के अंदर-बाहर होने से फच्च फच्च की आवाज़ें आने लगीं और मैं बहुत जोर से मस्ती में चिल्लाते हुए एक साथ चूत और गांड चुदाई का आनंद लेने लगी। उन्होंने जगह बदल कर मेरी चूत और गांड चुदाई की।

Comments

Scroll To Top