Gauri Aunty Ki Chut Chudai

Click to this video!
HARSHAL 2016-08-18 Comments

Desi Sex Stories

नमस्ते दोस्तों में राज शर्मा में रतलाम में रहता हूँ.. मेरे उम्र 22 साल है आज अन्तर्वासना पर अपनी पहली कहानी लिख रहा हूँ.. कोई गलती हो तो माफ़ करना।

ये बात जब की है जब मेरी उम्र 19 की थी। तब मेरे घर के पास एक आंटी रहती थी उनका नाम गौरी था उनके नाम के जेसे ही बहुत गोरी थी।उनका फिगर 32-30-36 का था और में हमेशा उनके गौरे रंग को निहारता रहता था।और उनका मेरे घर आना जाना लगा रहता था और इनके पति कोई मार्केटिंग जॉब्स काम करते थे जिससे बो घर पर कम ही रहते थे।

इसलिए आंटी के घर के सारे काम में ही करता था। जिससे में आंटी के बूब्स के दर्शन हो जाते थे।मगर एक दिन ऐसे ही आंटी के घर किसी काम से में गया और आंटी को आवाज लगाई कहा हो आंटी मगर आंटी ने जब कोई जबाब नहीं दिया तो में आंटी के कमरे में गया तो मुझे बाथरूम से कुछ आवाज आई मेने सोचा शायद आंटी नहा रही होगी।

थीरे से दरवाजे के पास गया और छेद में से देखा तो आंटी पूरी नगी नहा रही थी और उनके सफ़ेद दूध जेसे बूब्स और मस्तचिकनी चूत देखकर मेरे पजामे में मेरा लंड तम्बू बन गया आंटी अपनी चूत में ऊगली कर रही थी और हा ऊऊऊऊ स्स्स्स्स्.कुछ आवाज निकाल रही थी।

में ये देख कर ना जाने मुझे क्या हुआ की मेरा हाथ मेरे लंड पर चला गया और में उससे दबाने की कोशिश करने लगा मगर वो और दर्द करने लगा मेने एक बार एक पोर्न वीडियो में देखा था की आदमी अपने लंड को आगे पीछे कर के फिर चूत में लंड डालता है मगर में मेरे पास तो चूत नहीं थी।

फिर मेने लंड की चमड़ी को आगे पीछे करने लगा तो कुछ सफ़ेद सा झाग जैसा मेरे लंड से निकल ने लगा उस के बाद मुझे आराम मिला इतने में आंटी भी नहा कर बहार आने वाली थी तो जल्दी से में निचे भाग गया मगर मुझे याद आया की में वो सफ़ेद झाग साफ करना भूल गया कही आंटी ने देख लिया तो और घर पर बोल दिया तो खूब मार परेगी मगर क्या करू समझ नहीं आ रहा था मुझे में डर के अपने घर चला गया।

और थोरे दिन आंटी के घर नहीं गया एक दिन आंटी घर पर आई किसी काम से और गलती से में उनके सामने आगया उन्होंने कहा क्या बात है राज आज कल घर नहीं आते। मेने कहा ऐसी बात नहीं है पढाई का बोझ जयादा था तो आ नहीं सका फिर उन्होंने मां को कहा मुझे कुछ सामान मंगाना है तो राज को मेरे साथ भेज दो मेरी माँ ने हा कर दिया में डरते हुए आंटी के साथ उनके घर गया तो उन्होंने कहा तुम यही रुको में अभी आई जब आंटी निचे आई तो में उन्हें देखता ही रह गया लाल साडी और नीला ब्लाउज क्या मस्त लग रही थी।

आंटी और मेरे पास आकर कहा चलो मगर में तो उनमे इतना खो गया की ये धयान ही नहीं रहा की आंटी कब मेरे पास आगई और उन्होंने मेरा कधा पकर कर हिलाया तब होश आया मुझे मेने उनको सॉरी कहा उन्होंने कहा चले फिर हम एक बड़े शॉपिंग हॉल गए वहा उन्होंने कुछ साडी ली और फिर ब्रा पेन्टी के स्टोर में गयी और वो अपने लिये ब्रा लेने आई थी फिर मुझे दिखा कर पूछा ये केसी है मगर मेने मन में सोचा ये मुझ से क्यों पूछ रही है।

मुझे कुछ समझ नहीं आरहा था उन्होंने फिर पूछा मेने कहा ये अछि नहीं है मेने कहा में निकाल के बताता हूँ मेने उनसे उनका साइज़ पूछा तो उन्होंने बिना शरमाये कह दिया 32 की है.. तो मेने उनके साइज़ की ब्लैक रंग की ब्रा और सफ़ेद रंग की पेंटी निकाली जो उन्हें भी बहुत पसंद आई फिर हम शॉपिंग कर के घर आगये शाम को माँ ने कहा आज रात आंटी के घर ही रुक जाना मेंने पूछा क्यों माँ ने कहा कल रात गली में जो चोरी हुई थी।

उससे गोरी डर गई है उसने तुम्हे आज रात रुकने के लिए बोला था मेने सोचा कही वो झाग वाली बात आंटी को मालूम हो और मुझे रात को मारेगी तो नहीं ये सोच कर में में डरते हुए उनके घर गया मगर आंटी के चेहरा देखने के बाद ऐसा कुछ नहीं लगा फिर में भी वो बात भूल गया आंटी ने कहा राज खाना खा लिया तुमने मेने कहा हा आंटी थोरी देर में खाने के बाद आंटी बोली राज तुम मेरे रूम में ही सोजाना में ने कहा ठीक है।

में और आंटी रूम में गए और टीवी देख रहे थे आंटी सास बहु के नाटक देख रही थी। मेने कहा आंटी को कोई फ़िल्म लगाओ आंटी ने मना कर दिया तो मेने फिर से कहा तो उन्होने कहा तुम्हे सोना हो तो सो जाओ मगर मुझे इतना जल्दी नींद नहीं आती है में ने आंटी से रिमोट छीनने की कोसिस की और उनको ठका मारकर उनके ऊपर चरकर उनके हाथ से रिमोट छीनने की कोशिश में गलती से मेरे हाथ से उनका बूब्स दब गया उनके मुख से एक आह्ह्ह निकल गयी।

Comments

Scroll To Top