Gauri Aunty Ki Chut Chudai

Click to this video!
HARSHAL 2016-08-18 Comments

मेने पूछा क्या हुआ आंटी आंटी ने कहा कुछ नहीं फिर थोरी देर टीवी देखने के बाद में वही उनके साथ सोगया अचानक रात को मुझे लगा की कोई मेरे लंड को हिला रहा है में जेसे ही उठा सामने आंटी मेरे लंड को मुँह में लेकर चूस रही है मेने कहा आंटी ये क्या कर रहे हो आंटी बोली पानी पी रही हूँ मगर ये गन्दा काम है आंटी चुप-चाप मजे लो नहीं आंटी ये गन्दा काम है।

ये बात माँ को कह दूँगा आंटी कहती है जब बाथरूम में झाक कर मुझे नगा नहाते हुए देख रहे थे वो गन्दा काम नहीं कर रहे थे मेने कहा वो तो गलती से होगया अब आप मेरे साथ ये गन्दा काम ना करे नहीं तो में सब को बता दूँगा आंटी ने मुझे छोर दिया फिर अंदर से रस्सी लेकर आई और मेरे हाथ बाधने लग गई मेंने कहा ये क्या कर रही आंटी तू सीथीं तरह से मानेगा नहीं इसलिए आज तेरा रेप करुँगी और तुझे पूरा खाजाउगी मेने कहा आंटी ऐसा मत करो छोर दो मगर आंटी नहीं मानी..

उन्होंने पहले मेरा शर्ट फार दिया और मेरे सीने पर किस करने लगी जिससे मुझे कुछ होने लगा मेने फिर उन्हें कहा मुझे छोर दे मगर अब की बार आंटी होटो पर किश करने लगी और मेरा मुँह को दबाकर मेरी जीभ को चूसने लगी जिससे मुझे भी मस्ती आने लगी और फिर सेऊपर से किश करते हुए निचे लण्ड पर आकर उससे मुह में लेकर चूसने लगी घप्प्पप्पप्प की आवाज आने लगी में आँख बद कर सिफ मजा ले रहा था फिर आंटी ने अपनी नाइटी खोली उन्होंने अंदर कुछ कुछ नहीं पहना उनके सफ़ेद बोब्स में भूरे रंग का दाना और भी मस्त लग रहा था।

फिर आंटी ने वापिस मेरा लंड मुह में लेकर चूसने लगी और जिससे मुझे मजा आरहा था अब मेरे मन में भी आंटी के साथ ये खेल खेलना चाहता था मगर मेरे हाथ बधे हुए थे कुछ कर नहीं सकता था इतने में आंटी लंड को चूत पर सेट कर के ऊपर बेठ गई और उनके मुह से एक अह्ह्ह निकली और मेरे मुह से भी फिर आंटी ऊपर निचे होने लगी और हस्सस्साआआ करने लगी और में भी निचे से धगे मार रहा तो आंटी समझ गयी की में अब तैयार हूँ उनके साथ इस खेल में..

तो उन्होंने मेरे हाथ खोल दिये मेने गुस्से में आंटी को पकर उनके अपने निचे लिटाकर जोरो से होठो पर किस करना चालू कर दिया आंटी भी मेरे किस का जबाब मेरे लंड को आगे पीछे कर के कर रही थी फिर में निचे उनके बूब्स चूसने लगा और आंटी मेरे सर पर हाथ फेर रही थी मेने एक ऊगली उनके चूत में डाल कर आगे पीछे कर रहा था साथ ही उनका मीठा दुथ दबाकर पिने में जो जो मजा आरहा उसका आनंद ही अलग था आंटी आआस्सस्ड्डसदास कर रही थी।

और कह रही थी और जोर से राज आज इनका सारा दूध पिजाओ खजाओ इनको ये आज से तेरे लिए ही है जब तेरी इच्छा हो जब आजाना फिर मेने निचे किस्स करते हूँ चूत पर आया और चूत चाटने लगा आंटी मेरा सर पकर कर चूत पर दबा रही थी। चूत का भी चाटने का मजा आरहा था फिर थोरी देर में आंटी झर गई और उनका पूरा रस मेरे मुह में चला गया जो नमकीन और टेस्टी था मेने आंटी से कहा आंटी अब आप की चूत मारूँगा आप तैयार है।

कहानी पढ़ने के बाद अपने विचार निचे कोममेंट सेक्शन में जरुर लिखे.. ताकि देसी कहानी पर कहानियों का ये दोर आपके लिए यूँ ही चलता रहे।

आंटी बोली वो तो बस तेरे लंड के लीये ही बनी है घुसा दे और मेरे इतने दिनों की प्यास भी। मेने चूत के मुह में लंड सेट किया और अपनी फूल ताकत से एक ही बार में लंड चूत में डाल दिया जिससे आंटी और मुझे थोड़ा दर्द हुआ और आंटी मादरचोद आराम से कर राज जल्दी नहीं है मुझे फिर मेने आंटी की चोदना चालू किया और साथ-साथ उनके बॉब्स दबरहा था।

किस्स करते हुए ऊऊऊऊम्मम्मम इतने में आंटी फिर झर गयी आंटी ने कहा राज अब होगया मुझे दर्द हो रहा है मगर में नहीं माना और उनको और जोर से चोदने लगा धौरी देर में मेरा भी मॉल उनकी चूत में निकल गया और आंटी बहुत ख़ुश थी। फिर किस्स किया और एक दूसरे से चिपकर सोगये आगे क्या हुऑ ये बाद में बताऊगा जबतक आप को मेरी ये पहली कहानी केसी लगी मुझे मेल कर के बताना जरूर.. मेरी मेल आई डी है “[email protected]”.

Desi Sex Stories

What did you think of this story??

Comments

Scroll To Top